Home » कोरोना संक्रमित गर्भवती की गोद में गूंजी किलकारी, माँ और बच्चा दोनों स्वस्थ
कोरबा न्यूज़

कोरोना संक्रमित गर्भवती की गोद में गूंजी किलकारी, माँ और बच्चा दोनों स्वस्थ

शेयर करें-

एनकेएच जीवन आशा कोविड अस्पताल जमनीपाली में हुआ सफल ऑपरेशन

कोरबा।कोरोना का नाम सुनते ही लोग खौफजदा हो जाते हैं, मगर, एनकेएच जीवन आशा हॉस्पिटल में ख़ौफ़ को मात देते हुए कोरोना संक्रमित महिला ने स्वस्थ शिशु को जन्म दिया। स्त्री रोग विशेषज्ञ सर्जन डॉ. सिलेश्वरी कवंर ने कोरोना पीड़ित गर्भवती का सफल ऑपरेशन से प्रसव कराया। जच्चा-बच्चा दोनों स्वस्थ हैं। NKH के ग्रूप डायरेक्टर डॉ. एस. चंदानी ने पूरी टीम को बधाई देते हुए कहा की चिकित्सको की टीम ने कोरोना काल में जहाँ लोग खौफजदा है वहाँ कोरोना पॉसिटिव मरीज का ऑपरेशन कर सफल प्रसव कराया निश्चित ही इस टीम के जज्बे की जितनी सराहना की जाए वह कम है

कोरबा निवासी एक गर्भवती महिला का NKH जीवन आशा जमनीपाली अस्पताल में इलाज चल रहा था। प्रसव का समय आते ही उसकी जांच रिपोर्ट कोरोना पॉसिटिव निकली। इस पर अस्पताल प्रबंधन ने प्रसव कराने के लिए बैठक कर तय किया कि महिला का ऑपरेशन जीवन आशा कोविड अस्पताल में ही किया जायेगा। बता दें कि एनकेएच जीवन आशा इस समय कोविड अस्पताल में तब्दील हो चुका है। कोरोना पॉजिटिव गर्भवती महिला का करीब एक घंटे तक चला आपरेशन सफल रहा और स्वस्थ शिशु को जन्म दिया। संक्रमित प्रसूता महिला को विशेष तौर पर तैयार किए गए अलग से लेबर रूम में रखा गया है। लेबर रूम सहित 3 बिस्तर का अलग से वार्ड भी बनाया गया है। सर्जन डॉ. सिलेश्वरी कवंर, के साथ एनस्थीसिया विशेषज्ञ ,बाल रोग विशेषज्ञ के अलावा स्टाफ नर्स सरस्वती, प्रतिभा, निकेत और सीमा टेक्नीशियन की देखरेख महिला का सुरक्षित प्रसव कराया गया। जच्चा-बच्चा दोनों स्वस्थ हैं।
कोविड अस्पताल के डॉ. सगीर खान व डॉ.शाजिया खान ने बताया कि डॉक्टर का काम लोगों का इलाज करना है। बीमारी कोई भी हो। वैसे खतरा हर बीमारी में होता है किंतु सावधानी रख कर उपचार हमेशा सफल होता है। हमें इस बात की खुशी है कि प्रसूता ने कोरोना संक्रमित होना जानकर भी हौसला नहीं खोया और घबराई भी नहीं, उसके परिजनों ने भी उसके साथ-साथ मेडिकल टीम को भी पूरा सहयोग किया।


शेयर करें-

Add Comment

Click here to post a comment